• thephytologist@gmail.com
  • India
Ethnomedicine
10 Health Benefits of Edible Gum

10 Health Benefits of Edible Gum

Edible gum अर्थात खाने योग्य गोंद एक प्राकृतिक गोंद है जिसे बबूल के पेड़ों से प्राप्त किया जाता है. यह मुख्य रूप से मध्य पूर्व [Middle East] के पर्वतीय क्षेत्रों के साथ ही साथ पूरे अफ्रीका और भारतीय उपमहाद्वीप मुख्य रूप से पाई जाती है.

भारत में यह राजस्थान, पंजाब, गुजरात, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश में बहुतायत मात्रा में पाई जाती है. इसे वैकल्पिक रूप से ट्रैगाकैंथ गम [Tragacanth Gum] या बबूल गोंद [Acacia gum] के रूप में जाना जाता है.

Acacia gum जड़ों और तने से प्राकृतिक रूप स्त्रावित [Ooze out] होती है जिसे एकत्रित करके सुखाया जाता है. सुखने के बाद यह क्रिस्टल रूप में प्राप्त होता है. Edible gum स्वादहीन, गंधहीन, किन्तु पानी में घुलनशील होती है.

इसमें शीतलता और गर्माहट दोनों गुण होते हैं  और इसे आमतौर पर सर्दियों के महीनों में खाया जाता है।

गोंद का औषधीय महत्व | Medicinal importance of Gum

गोंद कैल्शियम, प्रोटीन और मैग्नीशियम से भरा एक प्राकृतिक उपोत्पाद [Byproduct] है. वात दोष से संबंधित स्वास्थ्य समस्याओं के उपचार के लिए आयुर्वेदिक दवाओं में Edible Gum का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है.

साथ ही यह शक्तिवर्धक और स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए भी जाना जाता है. प्राचीन काल से ही गोंद का उपयोग कई बीमारियों को ठीक करने के लिए किया जाता रहा है जिसमें प्रतिरक्षा को बढ़ावा देना, लू से बचाव, पेचिश और खांसी को रोकना आदि शामिल है.

हालाँकि, अब गोंद का उपयोग कपड़ा, कागज, सौंदर्य प्रसाधन और खाना पकाने के उद्योग में भी किया जाने लगा है. Edible Gum को विभिन्न नामों से जाना जाता है जैसे ड्रैगन गम, शिराज गम, लोकोवीड, goat’s thorn, गम इलेक्ट इत्यादि.

खाद्य गोंद के स्वास्थ्य लाभ | Health Benefit of Edible Gum

गोंद के कई फायदे हैं, यहाँ कुछ चुनिन्दा स्वास्थ्य लाभ की जानकारी नीचे दिए गए हैं.

1.एनीमिया के लिए गोंद | Edible gum for Anemic Patients

एनीमिक रोगियों के लिए Edible gum उत्कृष्ट है क्योंकि यह प्रोटीन और फोलिक एसिड जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होता है. एनीमिया का सामान्य कारण शरीर में आयरन का स्तर कम होना है.

हमारे शरीर को हीमोग्लोबिन बनाने के लिए कुछ आयरन की आवश्यकता होती है. यह ऑक्सीजन के प्रवाह को आंतरिक अंगों तक ले जाने का कार्य करती है.

यदि कोई व्यक्ति रक्त की कमी से पीड़ित है तो वह गोंद का प्रतिदिन सेवन कर सकता है. इससे बेहतर परिणाम प्राप्त हो सकता है.

2. गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए | Gum For Pregnant women & Lactating Mothers

गोंद न सिर्फ कई पोषक तत्वों से भरा हुआ है बल्कि बहुत पौष्टिक भी है. गर्भावस्था के दौरान गोंद का सेवन किया जा सकता है.

हड्डियों को मजबूत करने के साथ ही साथ पीठ दर्द को रोकने में मदद करता है. Edible Gum पीरियड्स के दौरान होने वाले भारी रक्त प्रवाह को नियंत्रित करने में भी मदद करता है.

प्रोटीन और कैल्शियम से भरपूर होने के कारण गोंद के लड्डू खाने की प्रथा भारत में अधिक आम और पारंपरिक है. इसलिए यह गर्भवती महिलाओं को दी जाने वाली स्वास्थ्यप्रद मिठाइयों में से एक है.

स्तनपान कराने वाली माताओं को गोंद के लड्डू खाने की सलाह दी जाती है क्योंकि इसे एक गैलेक्टागॉग [Galactagogue] माना जाता है. यह आमतौर पर प्रोलैक्टिन के स्तर [Prolactin levels] को बढ़ाकर स्तन के दूध के उत्पादन को बढ़ाने में मदद कर सकता है.

Edible gum

3. हीट स्ट्रोक से बचाता है | Edible Gum Prevents from Heat Stroke

बबूल को एक पारंपरिक जड़ी बूटी माना जाता है जो कब्ज को ठीक करने और हीटस्ट्रोक को रोकने में मदद करता है, क्योंकि गोंद में प्राकृतिक शीतलन गुण होते हैं. अक्सर इसका उपयोग पेय पदार्थ के रूप में किया जाता है.

इससे तैयार पेय गर्म धूप के दिनों में शरीर को ठंडा रखने में मदद करता है अर्थात् यह Edible Gum एक कूलिंग एजेंट के रूप में कार्य करता है. अत्यधिक गर्मी के कारण नाक से खून बहने को नियंत्रित करने में भी गोंद सहायक होता है.

4. ऊर्जा को बढ़ाता है | Edible Gum is a Energy Booster

एक गोंद का लड्डू आपको पर्याप्त ऊर्जा दे सकता है और यह लंबे समय तक चलेगा। यदि आप कमजोर महसूस करते हैं या कम से कम परिश्रम से जल्दी थक जाते हैं, तो इससे छुटकारा पाने के लिए रोजाना गोंद का सेवन की सलाह दी जाती है.

सुबह दूध और चीनी में खाद्य गोंद का सेवन करने से दिन भर तरोताजा महसूस किया जा सकता है.

5. गोंद वजन घटाने में मदद करे | Edible Gum Helps in Weight Loss

फाइबर की पर्याप्त मात्रा पाई गई है खाद्य गोंद में साथ ही इसमें शरीर की चयापचय दर [metabolic rate] को बढ़ाने का गुण भी होता है. उच्च फाइबर सामग्री के परिणामस्वरूप अधिक तृप्ति होती है और भूख की कम आवृत्ति होती है.

बढ़ा हुआ चयापचय शरीर की ऊर्जा आवश्यकताओं को स्वचालित रूप से बढ़ाएगा, जिसके परिणामस्वरूप कैलोरी की संख्या कम होगी जो वसा में परिवर्तित हो जाती है.

वजन प्रबंधन में Edible Gum को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं, यह वजन कम करने में काफी कारगर होता है.

6. सर्दियों के लिए उत्तम | Good for winter season

चूँकि गोंद के सेवन से गरमाहट मिलती है इसलिए सर्दियों के लिए सबसे अच्छा पेय माना गया है. यह उन लोगों के लिए भी बहुत अच्छा है जो ठंडी जगहों पर रहते हैं. सर्दियों के दिनों में आपको गर्म रखने के लिए गोंद के लड्डू सबसे अच्छे उपाय होते हैं.


Edible Gum
Image By: Lifestyle Desk The Indian Express

7. कब्ज से राहत | Relieves Constipation

अक्सर कई लोगों को कब्ज की समस्या का सामना अपने दैनिक जीवन में करते है. ऐसे समस्या से राहत पाने के लिए रोजाना कुछ न कुछ मात्रा खाने योग्य गोंद का सेवन किया जा सकता हैं. यह एसिडिटी और जलन को रोकने में भी मदद करता है.

8.चमकती त्वचा के लिए अच्छा | Improve Skin Glow

घुलनशील फाइबर से भरपूर होने के कारण खाद्य गोंद आपकी त्वचा में चमक ला सकता है. गोंद सिस्टम को डिटॉक्सीफाई करते हैं फलस्वरूप त्वचा के रंग और चमक में सुधार होता हैं.

इसे त्वचा के लिए एक एंटी-एजिंग उपाय भी माना जाता है और यह डलनेस, मुंहासे, रंजकता, या त्वचा से संबंधित किसी भी अन्य समस्या का इलाज करने के लिए अच्छा पाया गया है.

9. तनाव में शांत रखे | Keeps you Calm on Stress

तनाव की स्थिति में खाने योग्य गोंद लाभदायक माना जाता है. गोंद में एडाप्टोजेनिक गुण [Adaptogenic properties] होते हैं, जो शरीर की सामान्य शारीरिक कार्यप्रणाली को बहाल करने और तनाव के हानिकारक प्रभावों से सुरक्षित करने की क्षमता को बढ़ाता है.

इसमें मौजूद Anti-inflammatory गुण रक्तचाप को कम करने के लिए फायदेमंद हो सकते हैं.

10. दर्द से राहत के लिए गोंद | Edible Gum for Pain Relief

खाद्य गोंद को एनाल्जेसिक के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है, क्योंकि यह दर्द से राहत के लिए तंत्रिका तंत्र में विशिष्ट रिसेप्टर्स पर काम करता है. अध्ययनों में यह भी पाया गया है कि सही मात्रा में दिए जाने पर खाने योग्य गोंद एक प्रभावी दर्द निवारक के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है.

Further Reading