• thephytologist@gmail.com
  • India
Phyto Facts
7 Health Benefits of Bathua and Their Side Effect

7 Health Benefits of Bathua and Their Side Effect

आज हम बात करेंगे Bathua की 7 Health Benefits और उसके Side Effect की. बथुआ का वनस्पति नाम चिनोपोडियम एल्बम है और यह चिनोपोडीएसी कुल का पौधा है. [Chenopodium album; Chinopodiacae]

दरअसल बथुआ [Bathua] आमतौर पर भारत में पाया जाने वाला खरपतवार है और ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका और अमेरिका में भी पाया जाता है. जिसे हम पत्तेदार सब्जी के रूप में उपयोग करते है.

पुरे विश्व में अब तक इसके 250 से भी ज्यादा प्रजातियों का पता लगाया जा चूका है. जिसमे से 21 प्रजातियाँ भारत में ही पाई गई है. भारत के अलग-अलग हिस्से में इसे विभिन्न नामों से जाना जाता है.

इस पौधे की वृद्धि तेजी से होती है और बहुत कम समय में ही बढ़ जाती है. पत्तियों की सतह पर मोम जैसी कोटिंग होती है. इसकी उपलब्धता की बात करे तो भारत में, खासकर उत्तरी भारत में बथुआ सर्दियों के मौसम में बाजारों में आ जाती है.

पत्तों की तरह इसके बीजों में भी पोषक तत्व मौजूद होते है जिसे अनाज की तरह खाया जा सकता है. प्राचीन सभ्यताओं में भी बथुआ [Bathua] एक खाद्य स्रोत होने के प्रमाण मिले हैं. यूरोप, चीन और भारत में प्राचीन काल से बथुआ का लोकप्रिय साग के रूप से सेवन किया जा रहा है.

बथुआ के विभिन्न नाम | Different Name of Bathua

  • Bathua in Hindi – बथुआ, बथुया, बथुआ साग
  • Bathua in English – Bacon weed, Frost-bite, Wild spinach, Wild goose foot, Lamb’s Quarters
  • Bathua in Tamil – परुपकिराई | Parupkkirai)
  • Bathua in Telugu – पप्पुकुरा | Pappukura
  • Bathua in Gujarati – बथर्वो, टांको
  • Bathua in Marathi – चकवत, चाकवत

बथुआ के स्वास्थ्य लाभ | Health Benefits of Bathua

1. पेट के लिए अचूक दवा | Bathua Good for Stomach

पेट से संबंधित समस्याओं के लिए Bathua के अचूक दवा है. इस तारतम्य में कई लेख आपको इन्टरनेट में देखने और पढ़ने को मिल जायेगा.

Bathua में पानी की प्रतिशत मात्रा अधिक होती है. इसके साथ ही यह फाइबर का भी एक अच्छा स्रोत है जो पाचन क्रियाओं के लिए अच्छा माना जाता हैं. बथुआ के सेवन कब्ज से राहत दिला सकती हैं.

2. कोशिकाओं की मरम्मत | It Repairs Damaged Cell

बथुआ में अमीनो एसिड प्रचुर मात्रा होती है. चूँकि अमीनो एसिड हमारी कोशिकाओं का भी एक प्रमुख घटक होता है इस परिपेक्ष्य से यह हमारी कोशिकाओं की आतंरिक क्रियाकलापों, आतंरिक क्षति की मरम्मत साथ ही साथ इनके गठन में एक प्रमुख भूमिका निभाता है.

Bathua

3. रक्त को शुद्ध करता है | Bathua as a Blood Purifier

जैसा कि हम सभी इस बात से वाकिफ है कि खिले और दमकती त्वचा के लिए एक अच्छे आहार का सेवन आवश्यक है. यदि बार-बार कील-मुँहासे आ रहे है तो इसका मुख्य कारण रक्त की अशुद्धता हो सकती है.

नियमित Bathua का सेवन रक्त को शुद्ध करने में सक्षम होता है, जो की एक बेहतरीन त्वचा पाने के लिए मदद करता है.

4. वजन घटाने में उपयुक्त | Bathua May Help on Weight Management

USDA के एक ताजे रिसर्च के अनुसार प्रति 100 ग्राम बथुआ में लगभग 43 कैलोरी होती है. यह उन लोगों के लिए भी लाभदायक है जो हरे शाक को अपना कर अपना वजन प्रबंध करने की कोशिश कर रहे है.

5. स्वस्थ बालों को बढ़ावा देता है | It Promotes Healthy Hair

इससे न सिर्फ बालों का झड़ना कम होता है, बल्कि बाल मुलायम, चमकदार और स्वस्थ बन जाते है क्योंकि बथुआ प्रोटीन, खनिज और अन्य विटामिनों से भरपूर होता है. बालों को जड़ से मजबूत बनाता हैं.

6. दंत स्वास्थ्य के लिए अच्छा है | Good for dental health

दांतों से सम्बंधित समस्याओं जैसे मसूड़ों से खून आना, ठन्डे या गर्म में झनझनाहट आदि से निपटने में बथुआ मदद कर सकता है. इसके अलावा सांसों की बदबू से निजात पाने के लिए यह एक अचूक समाधान है.

7. नेत्र स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है | Very Good for Eye Health

तेजी से बदलते परिवेश में हमारी आँखे ज्यादातर समय ब्लूलाइट स्क्रीन के निरंतर संपर्क में रहती है, जिसके कारण आँखों की विज़न सम्बन्धी समस्याओं में इजाफ़ा हुआ है.

आँखों से संबंधित ऐसे समस्याओं में गुणकारी बथुआ लाभदायक हो सकता है. इसमें उपस्थित जस्ता और आयरन की मात्रा दृष्टि मजबूत करना सुनिश्चित कर सकती है.

साइड इफ़ेक्ट | Side Effects of Bathua

पोषक तत्वों से भरपूर होने के साथ ही साथ Bathua के कुछ साइड इफ़ेक्ट भी है जिनको ध्यान में रखना बेहद आवश्यक है जैसे:

  • गर्भावस्था के दौरान इससे बचना चाहिए. बथुआ [Bathua] के बीज गर्भपात का कारण बन सकते हैं.
  • ऑक्जेलिक एसिड से भरपूर होते हैं बथुआ के पत्ते, जो कैल्शियम से बंध जाते हैं और इसके कारण शरीर में कैल्शियम की उपलब्धता कम हो जाती है.
  • यह बहुत अधिक परागकण पैदा करता है जो एलर्जी विकसित कर सकते हैं. इस एलर्जी के कारण कभी-कभी बुखार भी हो सकता है.

Further Reading...

Leave a Reply

Your email address will not be published.