• thephytologist@gmail.com
  • India

Green apple vs red apple benefits

Apple से हम सभी परिचित हैं. हरे और लाल दोनों प्रकार के सेब बाजार में आसानी से उपलब्ध होते हैं. अक्सर दोनों फलों के पोषक तत्व तथा स्वास्थ्य लाभ को लेकर लोगों में कई अवधारणा होती है. “An apple a day keeps the doctor away” हम सभी इस पुरानी कहावत से परिचित है लेकिन सवाल यह है कि कौन सा […]

Herbal plants for increase hemoglobin counts

Hemoglobin [हीमोग्लोबिन] लाल रक्त कोशिकाओं में एक प्रोटीन है जो आपके शरीर के बाकी हिस्सों में ऑक्सीजन पहुंचाता है। यह कार्बन डाइऑक्साइड को कोशिकाओं से बाहर निकालता है और पुनः हीमोग्लोबिन को फेफड़ों में वापस छोड़ता है. पुरुषों में 13.5 ग्राम प्रति डेसीलीटर तथा महिलाओं में 12 ग्राम प्रति डेसीलीटर से कम हीमोग्लोबिन का पाया जाना हीमोग्लोबिन स्तर में कमी […]

Jimikand: A traditional food for good health

Jimikand को नकदी फसल के रूप में उगाई जाती है. इसकी अनुप्रस्थ संरचना और हाथी के पैर के समान दिखाई देने के कारण Elephant Foot Yam कहा जाता है. यह अपने उच्च पोषक मूल्य और कई स्वास्थ्य लाभों के लिए बड़े पैमाने पर उपयोग किया जाता है. जैसे, कब्ज, ऐंठन, आंतों की गर्मी और मोशन आदि. साथ ही यह कोलेस्ट्रॉल […]

10 Health Benefits of Edible Gum

Edible gum अर्थात खाने योग्य गोंद एक प्राकृतिक गोंद है जिसे बबूल के पेड़ों से प्राप्त किया जाता है. यह मुख्य रूप से मध्य पूर्व [Middle East] के पर्वतीय क्षेत्रों के साथ ही साथ पूरे अफ्रीका और भारतीय उपमहाद्वीप मुख्य रूप से पाई जाती है. भारत में यह राजस्थान, पंजाब, गुजरात, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश में बहुतायत मात्रा में पाई जाती है. […]

Know About Traditional Healers and Traditional Remedies

Traditional healers [पारंपरिक चिकित्सक] को ऐसे व्यक्ति के रूप में परिभाषित किया जा सकता है जिसे किसी समुदाय विशेष के द्वारा मान्यता प्राप्त है जिसमें वह औषधीय पौधों, खनिज पदार्थों, पशु आधारित तत्वों तथा सामाजिक, सांस्कृतिक और धार्मिक आधार का उपयोग करके स्वास्थ्य देखभाल प्रदान करता है. पारंपरिक चिकित्सक [Traditional healers] स्वास्थ्य की जानकारी और उपचार का एक विश्वसनीय स्रोत […]

The Sacred Plant: Role and Importance on Indian Society

Sacred Plant अर्थात धार्मिक महत्व के पौधे! भारतीय संस्कृति के अंतर्गत मौजूद सभी धर्मो में पौधों का विशेष महत्त्व है. विभिन्न प्रकार के धार्मिक अनुष्ठानों में पौधों, फूलों व पत्तियों को होना नितांत आवश्यक है. पौधों का धार्मिक कर्मकांड में शामिल करना वर्तमान ही नही वरन यह आदिकाल की प्रथा है. प्राचीन शिलालेखों में मिले भित्तचित्र से यह अनुमान लगाया […]