• thephytologist@gmail.com
  • India
Phyto Facts
Herbs Containing Water: Essential for Human Health

Herbs Containing Water: Essential for Human Health

Water and The Life | पानी और जीवन

Water (पानी) लगभग हर जीव के लिए बहुत आवश्यक है जिनका उपयोग किसी न किसी रूप में किया जाता है. कुछ जीवों के शरीर में 90% तक Water होता है इसीतरह एक वयस्क मानव शरीर में 60% तक पानी होता है.

जर्नल ऑफ़ बायोलॉजिकल केमिस्ट्री में प्रकाशित शोधपत्र के अनुसारमानव मस्तिष्क और हृदय 73% पानी से बना है. जहाँ फेफड़े लगभग 83% भाग पानी से बना होता है वहीँ त्वचा में 64% पानी पाया जाता है. इसके अलावा मांसपेशियाँ और गुर्दे में 79% तथा हड्डियाँ में 31% तक पानी होती है.

इस प्रकार हमारा शरीर का ज्यादातर भाग पानी के सहभगिता से बना होता है.

Minimum Water Requirement for Human Body | शरीर को पानी की न्यूनतम आवश्यकता

एक सामान्य दिन मेंऔसत वयस्क मानव शरीर के द्वारा जलीय तरल पदार्थ अर्थात पानी की लगभग 2500 mL (ढाई लीटर) मात्रा का सेवन आवश्यक रूप से करता ही है. इसमें से पानी की अधिकांश मात्रा पाचन तंत्र के द्वारा कार्य में ली जाती है.

कुछ शोध के अनुसार, शरीर में मौजूद लगभग 230 mL Water एरोबिक श्वसन [Aerobic respiration] के अंतिम चरणों मेंउपापचय क्रिया के दौरान उपयोग होता है.

इसके अतिरिक्तप्रतिदिन पानी की एक निश्चित मात्रा शरीर के विभिन्न मार्गों द्वारा बाहर निकल जाती है. जिसमे मुख्यतः मूत्र [Urine] के रूप में निकाल दिया जाता है। इस कार्य में गुर्दे [Kidney] अहम् भूमिका निभाता है.

सबसे महत्वपूर्ण तथ्य यह है कि गुर्दे भी शरीर में पानी के स्तर को नियंत्रित कर सकती हैंजी हाँ आपने सही पढ़ा! यदि आप निर्जलित अर्थात Dehydrated हैंतो Kidney पानी का संरक्षण करता हैंऔर यदि आवश्यक हो तो शरीर अतिरिक्त पानी को बाहर करने के लिए वह मूत्र को अधिक पतला भी कर सकता हैं।

पसीने के माध्यम से त्वचा की सतह से और फेफड़ों से निष्कासित हवा से भी वाष्पीकरण के माध्यम से आवश्यक Water की मात्रा बाहर निकल जाती है. इस प्रकार के पानी के नुकसान को असंवेदनशील पानी की हानि [Insensible Water Loss] कहा जाता है, क्योंकि व्यक्ति आमतौर पर इससे अनजान होता है.

Interim Capacity of Human Body for Water Loss | शरीर की अंतरिम क्षमता

शरीर के आंतरिक तापमान को संतुलित करने और कोशिकाओं को जीवित रखने जैसे कई आवश्यक कार्यों को करने के लिए बहुत सारे पानी की आवश्यकता होती है.

निर्जलीकरण [water loss] बड़ी तेजी से होता हैजिससे अत्यधिक प्यासथकान महसूस होती है. अधिक समय तक पानी नही मिलने पर अंग की विफलता और मृत्यु हो सकती है.

एक व्यक्ति लगभग दिनों तक पानी के बिना जीवित रह सकता है. पहले दिन प्यास और थोड़ी सुस्ती महसूस कर होगापरन्तु शरीर में पानी नहीं होने के कारण तीसरे दिन, अंग विफलता हो सकती है.

निर्जलीकरण हर किसी के ऊपर प्रभाव सामान नहीं होता है. प्रत्येक व्यक्ति को निर्जलीकरण के लिए एक अलग सहिष्णुता स्तर [Tolerance level] होगा और किसी और की तुलना में अधिक या कम समय तक पानी के बिना जीवित रहने में सक्षम हो सकता है.

Factors affecting to the water content on body | पानी की मात्रा को प्रभावित करने वाले कारक

कुछ कारक जैसे उम्रगतिविधि का स्तरसमग्र स्वास्थ्यशारीरिक कारकजैसे कि ऊंचाई और वजन, लिंग आदि कारको से शरीर में पानी की आवश्यकता निर्धारित होती है.

व्यक्ति की Food Habit भी पानी पीने की मात्रा को प्रभावित कर सकता है. उदाहरण के लिएएक व्यक्ति जो पानी से भरपूर खाद्य पदार्थजैसे; फलजूस या सब्जियां खाता हैउसे उतना पानी पीने की जरूरत नहीं होती जितना कोई व्यक्ति जो सिर्फ अनाजरोटी और अन्य सूखे खाद्य पदार्थ खा रहा है.

पर्यावरणीय स्थिति भी एक व्यक्ति के पानी पीने के व्यवहार को प्रभावित करता है. बहुत गर्म जलवायु में रहने वाले व्यक्ति को ज्यादा पसीना आएगाजिससे पानी की हानि अधिक होगी. उसी तरह नियंत्रित वातावरण में रहने वाले व्यक्ति को पसीना कम या नहीं आएगाइसलिए वे उतना पानी का उपयोग नहीं करेंगे। 

यदि किसी व्यक्ति को दस्त या उसे उल्टी हो रही हो तो उस दौरान भी शरीर में बड़ी तेजी से पानी की कमी होती है जो ऊपर सुझाये गए तथ्यों की तुलना में बहुत घातक मानी गई है.

Essential Vegetable for Summer | गर्मियों के लिए आवश्यक सब्जियां

कुछ ऐसे भारतीय सब्जियां है जिनके सेवन से शरीर के water level को संतुलित करके रख सकते है. वैसे तो सभी सब्जियों में नमी [moisture] भरपूर मात्रा में होती है किन्तु कुछ ऐसे भी है जिन्हें सीधे सलाद के रूप में उपयोग करके त्वरित राहत पाई जा सकती है.

खीरा [Cucumber]

water riches veg cucumber

वैज्ञानिकों की मानें तो खीरे में सभी ठोस खाद्य पदार्थों में से सबसे ज्यादा पानी की मात्रा होती है. सलाद, रायता, या एक ठंडे सूप के रूप में इसका सेवन एकदम सही है.

खीरे में मुख्य रूप से पानी होता हैसाथ ही इसमें विटामिन सी और कैफिक एसिड की भी प्रचुरता होती हैये दोनों त्वचा की जलन को शांत करने और सूजन को कम करने में मदद करते हैं.

यही कारण है कि खीरे का उपयोग अक्सर सूजी हुई आंखों और धूप की काली लाइन दूर करने के लिए किया जाता है.

पालक [Spinach]

पालक प्रोटीनविटामिन एआयरन और खनिजों में समृद्ध है। इसमें 91.4% पानी होता हैजो Hydrate करने में मदद करता है। भारत में मुख्यतः यह पकाकर खाया जाता है। यह मधुमेह रोगियों के लिए अच्छा हैऔर अन्य स्वास्थ्य लाभों के बीच कैंसर के जोखिमों को भी कम करने में मदद करता है।

water containing Spainech

फूलगोभी [Cauliflower]

Water riches veg

फूलगोभी में 92.1% पानी होता है. यह क्रूसिफेरी परिवार के एक सब्जी है जिसमें फाइटोकेमिकल्स [Phytochemicals] की अच्छी मात्रा और उच्च स्तर के Anti-inflammatory यौगिक पाए जाते हैं। यह विटामिन और खनिजों का एक समृद्ध स्रोत भी है.

मूली [Radishes]

मूली एक स्वादिष्ट, crunchy vegetable है जिसमें पानी की मात्रा अधिक होती है। यह बहुत स्वस्थप्रद हैंजिसमें Antifungal गुण पाये जाते हैंसाथ ही पाचनतंत्र सुधारने का भी कार्य करती हैं

चूँकि मूली में 95% पानी होती हैअगर आप Dehydrated महसूस कर रहे हैंतो इसे एक स्नैक या सलाद के रूप में ले सकते है जो त्वरित लाभ देती है.

water riches Raddish

गाजर [Carrots]

water on Carrots

गाजर सबसे लोकप्रिय सब्जियों में से एक हैं। गाजर में पानी 86-95% तक होता हैजो बहुत अधिक है। गाजर के कई अन्य स्वास्थ्य लाभ भी हैं जैसे यह फाइबर का भी एक अच्छा स्रोत हैंऔर इसमें कई विटामिन और खनिज बहुतायत होते हैं.

शिमला मिर्च [Capsicum]

शिमला मिर्च भारतीय रसोई की एक प्रमुख सब्जी हैइसमें 93.9 प्रतिशत पानी होता है। इस प्रकार यह आपके शरीर में हाइड्रेशन को बढ़ाने में मदद करता है। 

यह antioxidants से भरपुर होता है और विटामिन और खनिजों का एक समृद्ध स्रोत भी है। शिमला मिर्च आँखों को स्वस्थ रखने में भी मदद करता है।

water content on Capsicum

टमाटर [Tomatoes]

water contain on Tomato

टमाटर का उपयोग सब्जी की सलादसूपसैंडविचबर्गरकरीऔर बहुत कुछ तैयार करने के लिए किया जाता है। टमाटर में 94.5% पानी होता है। टमाटर स्वास्थ्य समस्याओंविशेष रूप से मधुमेहurinary tract infections और कोलेस्ट्रॉल स्तर को कम करने के लिए फायदेमंद साबित होता है.

Conclusion | निष्कर्ष

यहाँ बताये गए सभी सब्जियां बड़ी आसानी से भारतीय बाजारों में उपलब्ध हो जाती है. साथ ही इसे किचन गार्डन में बहुत कम प्रयासों से उगाया भी जा सकता है. इसका तात्पर्य यह है कि गर्मियों में इनका समुचित उपभोग से हमारे शरीर को जल के कमी के कारण होने वाले समस्याओं से निजात दिला सकता है.

Read More...

27 thoughts on “Herbs Containing Water: Essential for Human Health

Leave a Reply

Your email address will not be published.