• thephytologist@gmail.com
  • India
Home
Is sesame oil a good or bad fat?

Is sesame oil a good or bad fat?

Sesame oil  और तिल के बीज पोषक तत्वों से भरपूर होने के साथ ही साथ तेल की भी पर्याप्त मात्रा मौजूद होती है. तिल का वानस्पतिक नाम Sesamum indicum हैं.

बीजों का रंग सुनहरे सफेद तथा काले रंग के होते हैं लेकिन भुनने पर यह भूरे रंग के हो जाते हैं.

तिल के कई संभावित स्वास्थ्य लाभ हैं और हजारों वर्षों से पारंपरिक चिकित्सा में इसका उपयोग किया जाता रहा है.

हालांकि, इससे स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करने के लिए प्रति दिन एक निश्चित मात्रा में सेवन की आवश्यकता होगी.

तिल का तेल | Sesame oil

इस लेख में आप तिल तथा तिल के तेल के बारे में कुछ रोचक जानकारी प्राप्त करेंगे. आप संभवतः कैनोला तेल [Canola oil], जैतून का तेल [Olive oil], और यहां तक ​​कि एवोकैडो तेल [Avocado oil] से परिचित होंगे, लेकिन क्या आपने कभी तिल के तेल का इस्तेमाल किया है?

चीनी, जापानी और मध्य पूर्वी व्यंजनों में इस्तेमाल किया जाने वाला एक लोकप्रिय खाना पकाने का तेल, तिल का तेल कच्चे या भुने हुए तिल से प्राप्त किया जाता है.

इसमें विटामिन-बी, ई और फाइटोस्टेरॉल सहित फैटी एसिड तथा एंटीऑक्सिडेंट की उच्च मात्रा होती है, साथ ही इसमें प्रोटीन या कई आवश्यक विटामिन और खनिज नहीं पाई जाती हैं.

कच्चे बीजों से प्राप्त तिल के तेल हल्के रंग के होते हैं, दूसरी ओर, भुनी हुई बीजों से प्राप्त तेल गहरे रंग की पौष्टिक स्वाद वाली होती हैं. दोनों में कई पाक अनुप्रयोग हैं.

यह तेल अक्सर मांस और सब्जियों को भूनने के लिए प्रयोग किया जाता है या ड्रेसिंग और मैरिनेड में उपयोगी होता है.

माना जाता है कि तिल के तेल में कुछ महत्वपूर्ण स्वास्थ्य लाभ होते हैं, जैसे हृदय को स्वस्थ रखने वाला वसा, सूजन को कम करना और त्वचा को सूरज की किरणों से होने वाली क्षति से बचाना इत्यादि.

चूँकि अभी इस दिशा में और अधिक शोध की आवश्यकता है जिससे तिल तथा इसके तेल के लाभों और संभावित जोखिमों को पूरी तरह से समझा जा सके.

पोषक तत्व | Sesame oil contains

एक चम्मच तिल के तेल में निम्नलिखित पोषक तत्व शामिल होती हैं:

  • कैलोरी: 120
  • प्रोटीन: 0 ग्राम
  • वसा: 14 ग्राम
  • कार्बोहाइड्रेट: 0 ग्राम
  • फाइबर: 0 ग्राम
  • चीनी: 0 ग्राम

ओमेगा-3 और ओमेगा-6 फैटी एसिड भी प्रचुर मात्रा तिल के तेल में उपलब्ध होती हैं, जो कि दोनों पॉलीअनसेचुरेटेड वसा होते हैं. यही दोनों आवश्यक फैटी एसिड हैं जो हृदय रोग और कैंसर सहित कई बीमारियों को रोकने में कारगर होते है. इसके अलावा शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार करने में भी मदद करते हैं.

तिल के तेल के संभावित स्वास्थ्य लाभ | Potential health benefits of sesame oil

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर | Sesame oil is a Rich Source of Antioxidants

सर्वप्रथम तिल का तेल एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है. विटामिन ई और फाइटोस्टेरॉल के साथ इसमें लिग्नांस, सेसमोल और सेसमिनॉल होता है. ये यौगिक शरीर में मुक्त कणों से लड़ने में मदद करते हैं, जिससे पुराने रोगों के विकास के जोखिमों को प्रभावी रूप से कम किया जा सकता है.

ह्रदय स्वास्थ्य | Sesame oil improved heart health

जैसा उल्लेखनीय है कि तिल के तेल में ओमेगा-3, ओमेगा-6 और ओमेगा-9 फैटी एसिड का संतुलित अनुपात होता है. ओमेगा -3 और ओमेगा -6 पॉलीअनसेचुरेटेड हैं, जबकि ओमेगा -9 फैटी एसिड मोनोअनसैचुरेटेड हैं.

शोध से पता चलता है कि इन स्वस्थ वसा युक्त आहार हृदय रोग के विकास के जोखिम को कम करता है. साथ ही तिल के तेल का सेवन एलडीएल कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने में मदद करता है, जो ह्रदय की रक्षा करने में भूमिका निभाते हैं.

सूजन को कम करे | Its Reduced Inflammation

कई पारंपरिक चिकित्सा में एक Anti-Inflammation के रूप में तिल के तेल का उपयोग किया गया है. पारंपरिक ताइवानी दवा ने इसका उपयोग जोड़ों के दर्द, दांत दर्द, कटने, खरोंच, मासिक धर्म से पहले ऐंठन जैसे कुछ शारीरिक समस्याओं के इलाज के लिए किया है.

इस तारतम्य में अभी कुछ और मानव आधारित अध्ययनों की आवश्यकता है. कुछ टेस्ट-ट्यूब अध्ययनों ने निर्धारित किया है कि तिल का तेल inflammatory markers को कम करने में प्रभावी है.

Sesame oil
Image by Pixabay

विनियमित रक्त शर्करा स्तर | Regulated Blood Sugar Levels

रक्त में मौजूद शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में Seasame oil मदद करता है. एक अध्ययन में पाया गया कि तिल का तेल लेने वाले वयस्कों ने फास्टिंग ब्लड शुगर [रात की नींद के बाद आपका ब्लड शुगर] और हीमोग्लोबिन A1c [पिछले दो से तीन महीनों में आपका औसत ब्लड शुगर लेवल] को कम कर दिया था.

बालों के लिए उत्तम | For Hair Health

उल्लेखनीय है कि Seasame oil में मौजूद सेसमिन और विटामिन-ई बालों के लिए लाभदायक होते है. एक अध्ययन में पाया गया कि दो एंटीऑक्सिडेंट युक्त पूरक [Sesamin and vitamin E] बालों की मजबूती और चमक में सुधार करते हैं.

तनाव और अवसाद से राहत | Relief from Stress and Depression

कुछ जैव रसायन अध्ययन से ज्ञात हुआ है कि Sesame oil में टायरोसिन [Tyrosine] नाम का अमीनो एसिड होता है. टायरोसिन सेरोटोनिन को बढ़ाता है, जो तनाव और अवसाद की भावनाओं से लड़ने में मदद करता है.

अल्ट्रा वोइलेट क्षति से रक्षा | Sun Damage Prevention

चूहों पर किये गए कुछ शोध से पता चलता है कि तिल के तेल में एंटीऑक्सीडेंट अल्ट्रा वोइलेट क्षति के खिलाफ त्वचा की रक्षा कर सकते हैं. तिल का तेल यूवी किरणों का 30% तक प्रतिरोध करता है, जबकि अन्य तेलों में केवल 20% तक ही प्रतिरोध दर्ज किया गया हैं.

इस विषय पर शोध सीमित है. जबकि कुछ स्रोतों का दावा है कि Sesame oil एक प्रभावी प्राकृतिक सनस्क्रीन हो सकता है, इसलिए आप अपनी त्वचा को सूरज UV Rays की क्षति से बचाने के लिए नियमित सनस्क्रीन का उपयोग जारी रख सकते हैं.

तिल के तेल के संभावित जोखिम | Potential Risks of Sesame Oil

हालांकि तिल के तेल को अपने आहार में शामिल करने के कई संभावित लाभ हैं, लेकिन कुछ संभावित जोखिमों को ध्यान में रखना चाहिए. इन जोखिमों में निम्नलिखित शामिल हैं:

तिल एलर्जी | Sesame Allergies

वैश्विक रूप गौर करें तो तिल अब नौवां सबसे आम एलर्जेन है, जिसमें अमेरिका की लगभग 0.2% आबादी को इससे एलर्जी है. हालांकि यह प्रतिशत महत्वपूर्ण नहीं है किन्तु Sesame oil लगभग शीर्ष आठ एलर्जी के रूप में आम है.

भार बढ़ना | Weight Gain

जैसा कि पहले ही कहा गया है कि Sesame oil में हृदय-स्वस्थ ओमेगा-3 और ओमेगा-6 फैटी एसिड होते हैं, लेकिन बहुत अधिक तेल अवांछित प्रभाव पैदा कर सकता है.

तिल के तेल में कैलोरी की मात्रा अधिक होती है, जिसे अधिक मात्रा में खाने से वजन बढ़ने की सम्भावना होती है.

दवा में हस्तक्षेप | Medication Interference

आपके रक्तचाप और रक्त शर्करा के स्तर को तिल का तेल सकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है. हालांकि, यदि आप उच्च रक्तचाप या मधुमेह के लिए दवाएं ले रहे हैं, तो इससे आपका रक्तचाप या रक्त शर्करा बहुत कम हो सकता है.

किसी भी परिस्थिति में तिल के तेल को अपने आहार में शामिल करने से पहले आपको अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए.

Some other articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.